कोरोना के चलते बिजली कंपनी का रिकवरी लक्ष्य पिछड़ा;अब बिलों में राशि होगी समायोजित

0
13

ग्वालियर।अजयभारत न्यूज
जिले में मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी का बीते वित्तीय वर्ष में लक्ष्य पूरा नहीं हो सका है। जब बिजली कंपनी को 31 मार्च तक 90 फीसदी बिलों की रिकवरी के टारगेट दिए गए थे।उसी समय कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन शुरू हो गया, जो आज भी जारी है।इसके कारण बिजली कंपनी का कलेक्शन आधे से भी कम रह गया है।
बिजली कंपनी ने 31 मार्च के पहले घरेलू और औद्योगिक कनेक्शनों से लगभग 90 फीसदी रिकवरी का लक्ष्य अपने मैदानी अफसरों को दिया था, लेकिन 22 मार्च से लागू हुए कर्फ्यू और उसके बाद लॉकडाउन के चलते बिजली कंपनी का कलेक्शन आधे से भी कम रह गया है। फिलहाल 37 फीसदी औद्योगिक क्षेत्र से आया कलेक्शन ऑनलाइन कंपनी में जमा हुआ है। जबकि घरेलू कनेक्शन से सिर्फ 30 फीसदी ही कलेक्शन आया है।कुल मिलाकर 85 से 90 फीसदी हर वित्तीय वर्ष के समापन पर होने वाला कलेक्शन इस बार सिर्फ 40 फीसदी हो सका है। अफसर मानते हैं कि कोरोना काल में बिजली कंपनी ही नहीं हर सरकारी क्षेत्र के उपक्रम की माली हालत पर असर पड़ा है।उन्होंने अपने उपभोक्ताओं के लिए ऑनलाइन बिजली बिल जमा करने की सुविधा शुरू की है और आने वाले दिनों में जो बिल बकाया है, उन्हें अगले बिलों में समायोजित किया जाएगा।ताकि बिजली कंपनी अपने टारगेट के आसपास पहुंच सकें।गौरतलब है कि बिजली कंपनी का दोनों तरह के कनेक्शन से टारगेट लगभग 60 करोड़ के आसपास रहता है।

LEAVE A REPLY