खांसी के घरेलू उपाय ज्‍यादा कारगर ,खांसी के इलाज में शहद सबसे असरकारी तरीका

0
15

नई दिल्ली। बलगम वाली खांसी के घरेलू उपाय ज्‍यादा कारगर होते हैं और इनकी मदद से आप घर पर ही खांसी को ठीक कर सकते हैं। तो चलिए जानते हैं बलगम की खांसी के घरेलू उपचार क्‍या हैं। आमतौर पर खांसी वायरस के कारण होती है। डॉक्‍टर बलगम वाली खांसी के लक्षणों को ठीक करने के लिए कुछ ज्‍यादा नहीं बताते हैं लेकिन आप घर पर ही प्राकृतिक चीजों एवं नुस्‍खों से इसे ठीक कर सकते हैं। बलगम वाली खांसी के इलाज में शहद सबसे असरकारी तरीका है। एक चिकित्‍सकीय अध्‍ययन में पाया गया कि रात को सोने से 30 मिनट पहले 1।5 चम्‍मच शहद खाने से कफ कम बनता है और नींद अच्‍छी आती है। विटामिन सी की बड़ी खुराक से इम्‍यून सिस्‍टम को बढ़ाया जाता है जिससे कि शरीर खुद ही वायरस से तेजी से लड़ सके। जब तक कि लक्षणों में सुधार नहीं आता है, तब तक दिन में दो बार संतरा खाएं या संतरे का जूस पीएं। जूस ठंडा नहीं होना चाहिए। इसके अलावा अदरक वाली चाय भी बडी कारगर होती हैं। अदरक सूजन-रोधी और एंटीऑक्‍सीडेंट गुणों से भरपूर होती है। दिन में दो से तीन कप अदरक की चाय पीने से गले को आराम मिलता है। बलगम वाली खांसी में ये उपाय बहुत कारगर होता है। अध्‍ययन में सामने आया है कि थाइम और लौंग में एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं। एसेंशियल ऑयल या अर्क के रूप में ये श्‍वसन मार्ग में संक्रमण से लड़ने में शरीर की मदद कर सकते हैं। थाइम और लौंग की पत्तियों को 10 मिनट तक पानी में उबालें और फिर छानकर पी लें। भाप लेने से श्‍वसन मार्ग साफ होता है। इससे छाती में जमा म्‍यूकस भी टूट जाता है। कम से कम पांच मिनट तक गर्म पानी की भाप लें। गर्म पानी से नहाने से भी आराम मिलता है। गर्म पानी में एक चुटकी नमक डालकर गरारे करने से भी गले को आराम मिलता है। गले में इंफेक्‍शन होने की कई समस्‍याओं को इस उपाय से ठीक किया जा सकता है।नींबू की चाय या शहद की चाय या नींबू और शहद की चाय से गले को आराम मिलता है और कफ कम होता है। विटामिन सी इम्‍यूनिटी को बढ़ाने में मदद करता है और ये बलगम वाली खांसी का बेहतरीन नुस्‍खा है।

LEAVE A REPLY