लोकेश जाटव पर गिरी कोरोना बढऩे की गाज;मनीष सिंह होंगे इंदौर के नए कलेक्टर

0
21

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित इंदौर है। इंदौर में कोरोना पीडि़तों की संख्या 19 पहुंच चुकी है। साथ ही सैकड़ों लोग अभी आइसोलेशन वार्ड में भर्ती है। कइयों की अभी तक रिपोर्ट नहीं आई है। इस बीच शिवराज सरकार ने इंदौर को लेकर बड़ा फैसला किया है। वर्तमान कलेक्टर लोकेश जाटव को हटा दिया है, उनकी नई पोस्टिंग भोपाल स्थित मंत्रालय में हुई है।
2009 बैच के आईएएस अधिकारी मनीष सिंह को इंदौर का कलेक्टर बनाया गया है। मनीष सिंह अभी प्रबंध संचालक, मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विधुत वितरण कंपनी लिमिटेड भोपाल में कार्यरत थे। तबादले से संबंधित अधिसूचना मुख्य सचिव इकाबल सिंह बैंस ने जारी कर दिया है। बताया जा रहा है कि नए कलेक्टर मनीष सिंह शनिवार शाम को ही इंदौर पहुंचकर कार्यभार संभाल लेंगे। वह इंदौर पहुंचने के बाद खजराना गणेश जी के दर्शन के लिए जाएंगे।
दो की मौत
मध्यप्रदेश में अभी तक दो कोरोना से पीडि़त मरीजों की मौत हुई है। दोनों ही मरीजों की मौत इंदौर में ही हुई है। साथ ही हर दिन कोरोना के केस भी बढ़ रहे हैं। हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि लोकेश जाटव का तबादला कोरोना की वजह से हुआ है या फिर कोई और बात है। लेकिन शिवराज सिंह कमान संभालने के चंद दिनों के बाद ही लोकेश जाटव की छुट्टी कर दी है।
लोग तोड़ रहे नियम
दरअसल, कोरोना का सबसे ज्यादा कहर इंदौर पर ही है। इंदौरवासी इसके बावजूद भी मानने को तैयार नहीं है। लोग लॉक डाउन में भी अपने घरों से बाहर निकल रहे हैं। प्रशासन इनके साथ सख्ती पेश भी आ रही है लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं है। पुलिस और प्रशासन के लोग इन्हें लगातार समझा रहे हैं। अब प्रशासन वहीं सख्ती बरतते हुए शनिवार को अस्पताल और मेडिकल शॉप को छोड़कर सब कुछ लॉक कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY