लॉक डाउन/कोरोना… घर से निकलो ना… जनता कर्फ्यू में सब बंद

0
45

ग्वालियर।अजयभारत न्यूज
रविवार को कोरोना वायरस के अलर्ट के चलते महानगर में जनता कर्फ्यू रहेगा। वैसे तो शहर में सबकुछ बंद रहेगा, लेकिन हर एक व्यक्ति का कर्तव्य बनता है कि वह अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग रहे। इसलिए कोशिश यही करें कि बेवजह घर से न निकलें। राजधानी में जनता कर्फ्यू को लेकर लोग अभी से सजग हैं। कोरोना वायरस के अलर्ट के चलते शहर में 22 मार्च को सबकुछ बंद रहेगा। इस दौरान सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं चालू रहेंगी। यह अनाउंसमेंट नगर निगम की गाडिय़ों और पुलिस की डॉयल-100 के माध्यम से कराया जा रहा है। कलेक्टर ने बताया कि घबराएं नहीं यह व्यवस्था सिर्फ सुबह 7 से रात 9 बजे तक के लिए है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोना वायरस से बचाव के लिए देशवासियों से अपील की गई है कि 22 मार्च रविवार को जनता कर्फ्यू करें। इस दिन लोग दिनभर घर से बाहर न निकलें। इसका शहर के व्यापारियों ने समर्थन किया है। रविवार को शहर के सभी बाजार बंद रहेंगे। इधर, प्रशासन ने भी जनता कर्फ्यू की तैयारियां शुरू कर दी हैं। रविवार को सुबह से ही चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात रहेगी। वहीं, प्रशासन के अफसर भी मुस्तैद रहेंगे। इतना ही नहीं सभी रेस्टारेंट और लोकल परिवहन भी बंद रहेगा। वहीं शहर के बस स्टैण्ड और रेलवे स्टेशन पर स्वास्थ्य विभाग की टीम तैनात की गई है, ताकि संदिग्ध की पहचान होने उसकी तुरंत जांच की जा सके।
कोरोना वायरस के फैलते असर के बाद अब शहर के हर बाजार, दुकान, आफिस और सार्वजनिक स्थानों पर बस कोरोना की चर्चा है और लोग धीरे-धीरे इससे भयभीत भी होते नजर आ रहे हैं। आलम यह है कि अब लोगों को सार्वजनिक स्थानों पर जाने में डर भी लग रहा है। हालंकि जिला प्रशासन द्वारा लोगों से कोरोना से डरने की जगह सावधानी बरतने की अपील की है। वहीं कोरोना के असर के चलते लोगों में लाॅकडाउन का भय भी सता रहा है और राशन और सब्जियों की दुकानों पर लोगों की खासी भीड़ देखने को मिल रही है।
कोरोना वायरस के फैलते प्रभाव के बीच प्रशासन ने जहंा धार्मिक स्थलों पर भीड़ जमा करने पर रोक लगा दी है तो वहीं शहर के ज्यादातर बडे मंदिरों ने श्रद्धालुओं के लिए अपने कपाट बंद कर दिए हैं। शुक्रवार को जुमे की नमाज के दौरान भी मस्जिदों में काफी कम संख्या में ही लोग नमाज अता करने पहंुचे प्रशासन ने शहर काजी सहित सभी मस्जिदों के मौलानाओं को मस्जिद में भीड़ जमा न करने की जानकारी दे दी है।
शहर के जेएएच सहित विभिन्न अस्पतालों में भी कोरोना वायरस का भय देखने को मिल रहा है और यहंा रोजाना की अपेक्षा काफी संख्या में मरीज पहंुच रहे है। ओपीडी में सबसे ज्यादा हालत खराब है यहंा मेडीसन विभाग और ईएनटी विभाग में मरीजों की लंबी-लंबी लाईनें देखने को मिल रहीं हैं।
कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने कोराना अलर्ट को लेकर शुक्रवार को कलेक्ट्रेट में अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में कलेक्टर ने कहा कि नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए शासन एवं जिला प्रशासन द्वारा जारी किए गए प्रतिबंधात्मक आदेशों का पालन प्रभावी रूप से हो, यह सुनिश्चित किया जाए। इसके साथ ही आम जनों को कोरोना वायरस से बचने के लिए सावधानियां बरतने के लिए जागृत करने का कार्य भी वृहद स्तर पर किया जाए। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए जिले में आईसोलेशन सेंटर एवं होम क्वारेंटाईन सेंटरों में सभी व्यवस्थाएं की जाएं।
जनता कर्फ्यू के दौरान किसी को परेशान नहीं करो:एसपी
ग्वालियर । पुलिस अधीक्षक कार्यालय सभागार में पुलिस व प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों की कोरोना वायरस के संबंध में आम लोगों को जागरूक करने के संबंध में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में एसपी नवनीत भसीन, जिला पंचायत सीईओ शिवम वर्मा, एडीएम किशोर कान्याल, एडीएम अनूप सिंह, एएसपी पंकज पाण्डेय, सत्येन्द्र सिंह तोमर, सुमन गुर्जर, सुरेन्द्र गौर सहित समस्त सीएसपी तथा एसडीएम एवं आरटीओ ग्वालियर उपस्थित थे।
बैठक में एसपी ने कहा कि जनता कर्फ्यू आप लोगों की सुरक्षा के लिये है न कि किसी को परेशान करने के लिये, उन्होने कहा कि जब तक जरूरी न हो घर से बाहर न आये और न ही अपने परिजनों को आने दें क्योंकि कुछ घण्टे घर में रहकर हम खुद और अपने परिजनों को कोरोना वायरस के संकमण से बचा सकते हैं।
बैठक में पुलिस अधीक्षक ग्वालियर द्वारा पुलिस व प्रशासन की संयुक्त टीमें बनाकर सार्वजनिक स्थानों पर लोगों को कोरोना वायरस के प्रति जागरूक करने की पहल की है। इसके लिये सीएसपी और एसडीएम संयुक्त रूप से भ्रमण करेंगे तथा थाना प्रभारी और तहसीलदार अपने-अपने क्षेत्र में भ्रमण कर लोगों का कोरोना वायरस के प्रति जागरूक करने के साथ-साथ आवश्यकता न होने पर घर पर ही रहने की अपील करेंगे ।एसपी ग्वालियर ने कहा कि कोरोना वायरस के प्रति लोगों को जागरूक करने में पुलिस को जागरूकता अभियान का हिस्सा बनकर अहम भमिका निभानी पड़ेगी उन्होने कहा कि सार्वजनिक स्थानों पर जागरूकता संबंधी बैनर लगाये जावे साथ ही लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों से एक स्थान पर एकत्रित न होने की अपील भी की जावे। क्योंकि कोरोना वायरस से सावधानी ही बचाव हैंग्वालियर जिले में धारा 144 प्रभावी है इसके तहत शराब के अहाते, समस्त मॉल्स को 31 मार्च 2020 तक बंद कर दिया गया है मॉल्स में केवल अत्यावश्यक वस्तु अधिनियम से संबंधित सामग्री की दुकाने उपयुक्त व्यवस्था का पालन कर ही संचालित हो सकेगी। यात्री बसों के संचालक कोरोना वायरस संक्रमण के उपाय का प्रचार प्रसार करेंगे तथा बसों को सेनेटाइज करंगे एवं बसों में एक लाईन में एक सवारी को बैठाकर एक मीटर की दूरी का डिस्टेंस मेंटेन करेंगे। लोवरलोडिंग पर्णतः प्रतिबंधित करेगीयात्री वाहनों की पलिस व परिवहन विभाग द्वारा चैकिंग की जाएगी। किसी भी प्रकार के समारोह प्रतिबंधित रहेंगे आवश्यक होने पर एसडीएम से पूर्व में ही अनुमति प्राप्त की जावेगी। जिले में संचालित रेस्टोरेंट में भी एक साथ लोगों के एकत्रित होने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।
घर-घर जाकर लोगों से की अपील
ग्वालियर। करॉना वायरस से बचाव के लिए मध्य भारत शिक्षा समिति द्वारा संचालित माधव विधि महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना की संयुक्त इकाई के स्वयंसेवकों ने जन-जागरण अभियान चलाना शुरू कर दिया है। छात्रों ने शहर की आसपास की कॉलोनियों के घर-घर जाकर लोगों को करॉना वायरस से बचने के लिए मास्क पहनने की अपील की। इसके साथ ही 22 मार्च रविवार को जनता कर्फ्यू में घरों से नहीं निकलने के लिए लोगों से आग्रह किया। छात्र लोगों के घरों पर मास्क पहन कर ही जा रहे हैं। सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने की अपील भी कर रहे हैं। कार्यक्रम अधिकारी डॉ नीति पांडे ने बताया कि करॉना वायरस एक प्राकृतिक आपदा व विश्व व्यापक संकट है। हर व्यक्ति करॉना से बचाव के लिए मास्क पहन कर ही घर से निकले, सैनिटाइजर का इस्तेमाल जरूर करें। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील मानें और रविवार के जनता कर्फ्यू के तहत घरों में रहे हैं। 31 मार्च तक ज्यादा सावधानी बरते। बच्चे व बुजुर्ग घरों से बाहर नहीं निकलें।
——————– और ,इधर —————————————————-
ग्वालियर का राजीव प्लाजा मार्केट 3 दिन के लिये बन्द
ग्वालियर।कोरोना वायरस के मद्देनजर रखते हुए शहर के बीचों बीच स्थित जयेन्द्रगंज स्थित राजीव प्लाजा एसोसियेशन के सभी दुकानदारों ने ग्वालियर की जनता के हित को ध्यान में रखते हुए स्वेच्छा से तीन दिन तक मार्केट बन्द करने का फैसला लिया है। इस पहल शहर के बाजारों के लिये के उदाहरण बनेगा। इस मौके पर मोंटी मोबाइल के संचालक मोंटी गोयल, मनोज चौरसिया और नितिन कलानी से सभी शहरवासियों और व्यापारियों से कोरोना वायरस से बचने के लिये घरों में रहने की अपील की हैं।
सोना एवं चांदी व्यापार संघ ग्वालियर द्वारा संस्थान बंद
विश्व महामारी कोरोना को समाप्त करने हेतु सोना एवं चांदी व्यापार संघ ग्वालियर द्वारा सर्वसम्मति से यह तय किया गया है कि दिनांक 22,23,24 मार्च 2020 को बाजार 3 दिन तक पूर्णता बंद रहेगा। ग्वालियर के सोना एवम चांदी व्यवसाय संघ ने अपने संस्थान बंद करके राष्ट्र के इस सामुहिक यज्ञ में योगदान प्रदान करें एवम अन्य लोगो को भी प्रेरित कर सहयोग प्रदान करे!

LEAVE A REPLY