अंचल में स्वास्थ्य और शिक्षा की बेहतर सुविधाएं मिलेंगी : सिंधिया

0
35

– 6 करोड़ 75 लाख रूपए की लागत से बनी आधुनिक कैथ-लैब का शुभारंभ
ग्वालियर।अजयभारत न्यूज
ग्वालियर अंचल को स्वास्थ्य के क्षेत्र में एक बड़ी सौगात कैथलेब के रूप में मिली है। 6 करोड़ 75 लाख रूपए की लागत से बनी कैथ लेब से लोगों को बेहतर इलाज की सुविधाएं मुहैया होंगीं। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार को गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय एवं जयारोग्य चिकित्सा समूह में अत्याधुनिक कैथ लेब के शुभारंभ अवसर पर यह बात कही। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश की चिकित्सा शिक्षा, संस्कृति एवं आयुष विभाग की मंत्री श्रीमती विजयलक्ष्मी साधौ ने की।
पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि ग्वालियर अंचल को स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतर बनाने के लिए प्रदेश सरकार के माध्यम से महत्वपूर्ण कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार द्वारा ग्वालियर अंचल को स्वास्थ्य सुविधाओं की सौगात पर सौगात दी जा रही हैं। एक हजार बिस्तर के निर्माण का कार्य तेजी से किया जा रहा है। इसके साथ ही सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल बनकर तैयार है। 2009 से स्वीकृत आधुनिक कैथ लेब का कार्य भी मध्यप्रदेश सरकार ने 6 माह में पूर्ण कर लोकार्पित कर लिया है। 6 करोड़ 75 लाख रूपए की लागत से बनी इस आधुनिक लैब से न केवल ग्वालियर अंचल को बल्कि आस-पास के प्रदेश राजस्थान और उत्तरप्रदेश के कई जिलों के निवासियों को भी बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध होने लगेंगीं।
पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि ग्वालियर के गोला का मंदिर स्थित मार्क हॉस्पिटल की भूमि पर भी एक भव्य प्राइवेट हॉस्पिटल बनाने का कार्य किया जायेगा। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य और शिक्षा सबके लिए जरूरी है। ग्वालियर-चंबल संभाग में स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में तेजी के साथ कार्य किया जायेगा। श्री सिंधिया ने कहा कि ग्वालियर शहर को मेट्रोपॉलिटिन शहर बनाने का कार्य भी किया जा रहा है। ग्वालियर के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जायेगी।

बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए सरकार कटिबद्ध :साधौ
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश की चिकित्सा शिक्षा, संस्कृति एवं आयुष विभाग की मंत्री श्रीमती विजयलक्ष्मी साधौ ने कहा कि आम आदमी को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए सरकार कटिबद्ध है। स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिए तेजी से कार्य किए जा रहे हैं। ग्वालियर में प्रारंभ की गई अत्याधुनिक कैथ लेब प्रदेश की पहली कैथ लेब है, जिसमें सभी आधुनिक उपकरण उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि इस कैथ लेब के बन जाने से ग्वालियर अंचल के लोगों को सस्ता और बेहतर इलाज उपलब्ध होने लगेगा।

कैथ लेब की नई सौगात मिली :प्रद्युम्न सिंह
कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि ग्वालियर को स्वास्थ्य सेवाओं की दिशा में कैथ लेब की नई सौगात मिली है। इसके प्रारंभ होने से आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को भी ग्वालियर में ही बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध होने लगेंगीं। उन्होंने कहा कि श्रीमंत सिंधिया के विशेष प्रयास से ग्वालियर में एक हजार बिस्तर के अस्पताल निर्माण का कार्य भी तेजी से किया जा रहा है। इसके बन जाने से ग्वालियर-चंबल संभाग के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध होने लगेंगीं।

विधायक भी रहे साथ ,यह कहा –
कार्यक्रम के प्रारंभ में विधायक मुन्नालाल गोयन ने कहा कि सिंधिया परिवार के द्वारा ही ग्वालियर में पहला मेडीकल कॉलेज स्थापित कराया गया था। स्वास्थ्य, शिक्षा और पेयजल के क्षेत्र में सिंधिया परिवार द्वारा किए गए कार्यों को हम कभी भुला नहीं सकते हैं। उन्हीं के प्रयासों से आज ग्वालियर अंचल को अत्याधुनिक कैथ लेब की सौगात मिली है। इसके शुभारंभ से लोगों को सस्ता और ग्वालियर में ही इलाज उपलब्ध होने लगेगा।
विधायक ग्वालियर दक्षिण प्रवीण पाठक ने कहा कि स्वास्थ्य और शिक्षा सभी की पहली प्राथमिकता है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्रदेश सरकार ने प्रभावी कदम उठाते हुए एक हजार बिस्तर के अस्पताल का निर्माण, आधुनिक कैथ लेब का शुभारंभ करने के साथ ही सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल जैसी सौगात ग्वालियर वासियों को दी है। इससे स्वास्थ्य की दिशा में बेहतर सुविधाएं उपलब्ध होंगी। कार्यक्रम के प्रारंभ में डीन मेडीकल कॉलेज डॉ. भरत जैन ने स्वागत भाषण दिया। उन्होंने बताया कि कैथ लेब के माध्यम से आम लोगों को एंजियोग्राफी, एंजियोप्लास्टी, आर्टिफिशियल पेस मेकर व स्टंट द्वारा ब्लॉकेज का उपचार की सुविधा उपलब्ध होंगीं।

ये रहे मौजूद
कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, विधायक मुन्नालाल गोयल, विधायक प्रवीण पाठक, डायरेक्टर मेडीकल एज्यूकेशन श्रीमती अलका श्रीवास्तव, जिला अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा, संभागीय आयुक्त एमबी ओझा, पूर्व संभाग आयुक्त बी एम शर्मा सहित जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया एवं अतिथियों ने कार्यक्रम के पूर्व जयारोग्य चिकित्सा समूह में पहुँचकर आधुनिक कैथलेब का शुभारंभ किया और लैब का अवलोकन भी किया।

LEAVE A REPLY