कर्नाटक: शिवकुमार 13 तक ईडी रिमांड पर

0
7

रामनगर। आय से अधिक की संपत्ति मामले कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी के बाद कर्नाटक में जगह-जगह प्रदर्शन हो रहा है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को गिरफ्तार किए गए शिवकुमार को बुधवार को दिल्ली की अदालत में पेश किया और 14 दिनों की रिमांड मांगी गई थी। विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहाड़ ने शिवकुमार को 13 सितंबर तक ईडी की हिरासत में सौंपे जाने के आदेश दिए। वहीं, वरिष्ट अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी और दयान कृष्णन ने शिवकुमार को रिमांड पर भेजे जाने का विरोध किया।
इससे पहले, रामनगर में मंगलवार देर रात दो बसों को आग के हवाले कर दिया गया, जबकि कई बसों पर पथराव किया गया है। पुलिस के मुताबिक, रामनगर मंडल में करीब 10 बसों पर पथराव किया गया है। बसों के शीशे टूट गए हैं। रामनगर पुलिस ने बसों के संचालन पर अगले आदेश तक रोक लगा दी है। इसके साथ ही आज रामनगर के सभी स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे। कांग्रेस के कार्यकर्ता आज भी प्रदर्शन कर सकते हैं। एहतिहात के तौर पर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। इसके साथ ही रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) की एक टीम को भी तैनात किया गया है।
13 घंटे ईडी ने की थी पूछताछ
वरिष्ठ कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार 2 सितंबर को ईडी के सामने कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में तीसरी बार पूछताछ के लिए पेश हुए थे। ईडी ने इस मामले में शुक्रवार और शनिवार को 13 घंटे से अधिक समय तक कांग्रेस नेता से पूछताछ की थी।
आय से अधिक संपत्ति का मामला
कर्नाटक में डीके शिवकुमार के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला चल रहा है। 2017 में आयकर विभाग ने डीके शिवकुमार के 64 ठिकानों पर छापेमारी की थी। उनके खिलाफ टैक्स चोरी की शिकायतों पर यह कार्रवाई हुई थी। उस दौरान डीके शिवकुमार और अन्य कांग्रेस नेताओं ने राजनीतिक बदले की भावना से कार्रवाई करने का आरोप लगाया था।

LEAVE A REPLY