कलेक्टर की बडी कार्रवाई…चार प्रतिष्ठानों पर 10 लाख रूपए का जुर्माना

0
16

– खाद्य पदार्थों में मिलावट करने एवं बिना पंजीयन के व्यवसाय करने पर किया जुर्माना
ग्वालियर।अजयभारत न्यूज
खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वालों और नकली खाद पदार्थों की बिक्री करने वालों के विरूद्ध प्रदेश स्तर पर चलाए जा रहे अभियान में ग्वालियर जिला प्रशासन द्वारा बड़ी कार्रवाई की गई है। ग्वालियर के चार प्रतिष्ठानों पर 10 लाख रूपए की राशि का जुर्माना लगाया गया है।
कलेक्टर अनुराग चौधरी के निर्देश पर सम्पूर्ण जिले में नकली खाद्य पदार्थों की बिक्री करने तथा खाद्य पदार्थों में मिलावट करने वालों के विरूद्ध की जा रही कार्रवाई की कड़ी में चार प्रतिष्ठानों के विरूद्ध खाद्य पदार्थों में मिलावट कर विक्रय करने तथा बिना लायसेंस के सामग्री के विक्रय करने के आरोप में 10 लाख रूपए की राशि का जुर्माना लगाया गया है। प्रशासन द्वारा निरंतर खाद्य पदार्थों की जाँच कर सेम्पलिंग का कार्य जारी है। लिए गए सेम्पलों को जाँच हेतु भेजा जा रहा है।
अपर कलेक्टर अनूप कुमार सिंह ने पूर्व में लिए गए नमूनों में अमानक पाए गए नमूनों के विक्रेताओं तथा बिना पंजीयन के सामग्री का वितरण करने वाले प्रतिष्ठानों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्रवाई करते हुए जुर्माने के आदेश जारी किए हैं।
—————————————-
इन पर हुई कार्रवाई
उनके द्वारा गुप्ता मिष्ठान भण्डार कटीघाटी पर 3 लाख रूपए का जुर्माना, मिथ्याछाप खाद्य पदार्थ विक्रय तथा बिना पंजीयन के कारोबार करने के आरोप में लगाया गया है। इसके साथ ही नरवरिया डेयरी हजीरा पर खाद्य कारोबार का बिना पंजीयन के क्रय-विक्रय करने पर 2 लाख रूपए का जुर्माना, रामू डेयरी शिंदे की छावनी पर बिना रजिस्ट्रेशन के व्यवसाय करने पर 2 लाख रूपए का जुर्माना लगाया गया है। इसके साथ ही विक्टोरियन विंटेज पर अमानक स्तर का खाद्य पदार्थ विक्रय करने पर 3 लाख रूपए का जुर्माना लगाया गया है। उन्होंने जुर्माने के आदेश जारी कर राशि वसूली की कार्रवाई करने के निर्देश भी जारी किए हैं।
——————————————-
कलेक्टर हुए सख्त
कलेक्टर अनुराग चौधरी ने जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार तथा फूड एण्ड सेफ्टी विभाग के इंस्पेक्टरों को जिले में निरंतर खाद्य पदार्थों की जांच करने तथा सेम्पलिंग करने के निर्देश दिए हैं। सेम्पलिंग के पश्चात अमानक पाए जाने पर संबंधित व्यवसायी के विरूद्ध दण्डात्मक कार्रवाई करने को कहा है।

LEAVE A REPLY