पूरे प्रदेश पर मानसून मेहरबान ,अनेक इलाकों में झमाझम बारिश का दौर जारी

0
7

भोपाल । शुरुआती इंतजार के बाद पूरे प्रदेश पर मानसून मेहरबान है। प्रदेश के अनेक इलाकों में झमाझम बारिश का सिलसिला शुरू हो गया है। इसी क्रम में शहर में सुबह से रुक-रुक कर अलग-अलग स्थानों पर कभी हल्की तो कभी तेज बौछारें पड़ती रहीं। लेकिन रात करीब 9 बजे अचानक तेज बरसात का सिलसिला शुरू हो गया। जिसके चलते शहर के नाले उफान पर आ गए और सड़कों पर पानी बहने लगा। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक इस वर्ष मानसून राजधानी सहित पूरे प्रदेश पर मेहरबान है। शहर में इस सीजन में गुरुवार सुबह 8ः30 बजे तक सामान्य बारिश(663.4मिमी.) के मुकाबले 880.6 मिमी. बारिश हो चुकी है, जो कि सामान्य से 247.2 मिमी. अधिक है। इसके साथ ही गुरुवार से झमाझम बरसात का एक और दौर शुरू हो गया है। यदि बरसात का यह सिलसिला दो दिन तक जारी रहा तो अगस्त माह की बारिश का कोटा माह के मध्य में ही पूरा होने का अनुमान है।
बरसात का यह सिलसिला शुक्रवार को भी जारी रहने का अनुमान है। इसके अलावा विदिशा,राजगढ़ से होकर गुजर रहे मानसून ट्रफ और महाराष्ट्र से कर्नाटक कोस्ट तक बनी एक द्रोणिका के कारण अरब सागर से भी काफी नमी मिल रही है। इससे मानसून को जबरदस्त ऊर्जा मिल रही है। इससे प्रदेश के कई स्थानों पर झमाझम बरसात का दौर जारी रहने के आसार हैं।बुधवार का हल्की बौछारें पड़ने से दिन का अधिकतम तापमान 25.8 डिग्रीसे.दर्ज हुआ था। लेकिन गुरुवार को दिन में कहीं-कहीं धूप निकलने से दिन का अधिकतम तापमान 29.8 डिग्रीसे.तक जा पहुंचा था,जो कि सामान्य से 1 डिग्रीसे. अधिक रहा। लेकिन शाम को तेज हवा चलने के साथ शहर के अलग-अलग स्थानों पर रुक-रुक कर बौछारें पड़ती रहीं। जिसके चलते शाम 5ः30 बजे तापमान लुढ़ककर 25.0 डिग्रीसे. पर आ गया था। वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में इस सीजन में पहली बार गहरा अवदाब का क्षेत्र बना है। यह इस सीजन का सबसे शक्तिशाली सिस्टम है। गुरुवार को यह सिस्टम प्रदेश में दाखिल होकर आगे बढ़ रहा है। इसके प्रभाव से राजधानी और आसपास के इलाकों में भारी बरसात का दौर शुरू हो गया है।

LEAVE A REPLY