उत्तराखंड सरकार बद्रीनाथ धाम का भी करेगी कायाकल्प,300 मीटर दूर से ही होंगे मंदिर के दर्शन

0
12

देहरादून। देवभूमि के नाम से प्रसिद्ध उत्तराखंड स्थित केदारनाथ तो काफी व्यवस्थित हो चुका है और अब सरकार ने बद्रीनाथ धाम को को भी विकसित करने के प्रयास शुरू कर दिए है। इसके लिए केंद्र सरकार ने करीब 48 करोड़ रुपये की धनराशि मंजूर की है। प्रदेश सरकार की कोशिश है कि विस्तृत कार्य योजना के तहत बद्रीनाथ धाम में आस्था पथ का निर्माण हो। आस्था पथ बनने के बाद 300 मीटर दूर से ही बद्रीनाथ धाम मंदिर के दर्शन होंगे। उत्तराखंड में साल 2013 की आपदा के बाद अब हर साल यात्रियों की संख्या में तेजी के साथ इजाफा हो रहा है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि हम मास्टर प्लान बना रहे हैं और इसी के तहत निर्माण कार्य होंगे। जिस तरह केदारनाथ में कुछ कॉरपोरेट्स ने मदद की है, हम चाहते हैं कि बद्रीनाथ धाम में भी उनकी और जनता की सहभागिता हो।
उत्तराखंड के मुख्य सचिव उत्पल कुमार ने कहा कि बद्रीनाथ धाम के विकास के लिए प्लानिंग कर रहे हैं। जिस तरह से केदारनाथ में विकास कार्य हुए हैं, उसी तरह से बद्रीनाथ में भी मांग आई है। हम लोग इस दिशा में काम कर रहे हैं कि मास्टर प्लान के तहत वहां पर निर्माण कार्य हो। जब तीर्थयात्री दर्शन करने आए तो वहां पर स्वच्छता, मंदिर दर्शन के लिए बेहतर सुविधा, पेयजल, बिजली, सीवरेज तमाम तरह की सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। उन्होंने कहा कि यात्री सुविधा के कई केंद्र बनाए जाएंगे। आस्था पथ के लिए मार्ग में आने वाले दुकानों को विस्थापित किया जाएगा। विस्थापन के लिए मंदिर समिति और शासन के बीच सहमति बन चुकी है। राष्ट्रीय राजमार्ग पर बड़े प्रवेश द्वार बनाए जाएंगे। बामणी नाले पर फुट ब्रिज बनेगा। माता मूर्ति परिसर का सौंदर्यीकरण होगा। साथ ही वाहनों की पार्किंग बनाने का भी काम किया जाएगा।

LEAVE A REPLY