ऑस्ट्रेलिया को हराकर अजेय बढ़त हासिल करने उतरेगी टीम इंडिया ,मैच दोपहर डेढ़ बजे शुरू होगा

0
12

रांची । भारतीय टीम शुक्रवार को यहां ऑस्ट्रेलिया के साथ होने वाले तीसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबले में जीत के साथ ही सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त हासिल करने उतरेगी। यह मैच पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी के घरेलू मैदान पर हो रहा है, ऐसे में टीम इस मुकाबले को जीतकर धोनी को जीत का तोहफा देना चाहेगी। इसका कारण यह है कि धोनी विश्व कप के बाद संन्यास ले सकते हैं। ऐसे में यह रांची में उनका अंतिम अंतरराष्ट्रीय मैच भी हो सकता है। भारतीय टीम उम्मीद करेगी कि इस मैच में उसकी सलामी जोड़ी फार्म हासिल कर ले। अभी तक के दोनो मैचों में रोहित शर्मा और शिखर धवन नाकाम रहे हैं। इस मैच में भी भारतीय टीम में बदलाव की उम्मीद कम ही है। ऐसे में बल्लेबाज लोकेश राहुल को शायद ही अवसर मिले। कप्तान विराट कोहली से टीम इस मैच में भी बड़ी पारी की उम्मीद करेगी। विराट ने पिछले मैच में शतक लगाया था। युवा केदार जाघव भी मैच को बदलने की क्षमता रखते हैं। युवा अंबाति रायडु भी अब तक उम्मीद के अनुरुप प्रदर्शन नहीं कर पाये हैं वह भी बड़ा स्कोर बनाना चाहेंगे। जहां तक गेंदबाजी की बात है भारतीय टीम ने पहले दोनो मैचों में बेहतर प्रदर्शन किया है, जो इस मैच में भी बरकरार रहने की उम्मीद है। तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार के अलावा टीम के पास कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल जैसे स्पिनर हैं। आराम के बाद टीम में वापसी कर रहे भुवनेश्वर एक बार फिर बेहतरीन प्रदर्शन करना चाहेंगे। ऑलराउंडर के तौर पर टीम के पास युवा विजय शंकर हैं। विजय शंकर ने दूसरे एकदिवसीय मैच में शानदार बल्लेबाजी करते हुए 46 रन बनाये थे और अंतिम ओवर में दो विकेट लेकर टीम को जीत दिलाई थी। ऐसे में वह इस मैच में भी बेहतर प्रदर्शन कर टीम में अपनी जगह पक्की करना चाहेंगे।
मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह ने अब तक दो मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया है। शमी ने पहले मैच में पहले स्पैल में शानदार गेंदबाजी की जबकि बुमराह ने दूसरे मैच में एक बार फिर डेथ ओवर में गेंदबाजी की अपनी क्षमता दिखाई। इसके अलावा अनुभवी रविंद्र जडेजा ने बीच के ओवरों में कुलदीप यादव के साथ शानदार गेंदबाजी की है।
वहीं दूसरी और मेहमान ऑस्ट्रेलियाई टीम इस मैच को जीतकर किसी भी हाल में वापसी करना चाहेगी हालांकि कप्तान आरोन फिंच के फार्म में नहीं होने से टीम की परेशानियां बढ़ी हैं। टीम के पास बल्लेबाजी में उस्मान ख्वाजा, मार्कस स्टोइनिस, ग्लेन मैक्सवेल और शॉन मार्श जैसे बल्लेबाज हैं जो अच्छा स्कोर बना सकते हैं जहां तक गेंदबाजी की बात है टीम के पास एडम जंपा और नाथन लायन जैसे बेहतरीन स्पिन गेंदबाज है। इसके अलावा तेज गेंदबाजी की बात करें तो पैट कमिंस, जाय रिचर्डसन नाइल, जेसन बेहरेनडोर्फ किसी भी बल्लेबाजी आक्रमण को परेशान कर सकते हैं।
दोनो टीमें इस प्रकार हैं:
भारत: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अंबाती रायुडू, केदार जाधव, विजय शंकर, महेंद्र सिंह धोनी, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, रविंद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल, भुवनेश्वर कुमार और ऋषभ पंत।
ऑस्ट्रेलिया: आरोन फिंच (कप्तान), उस्मान ख्वाजा, पीटर हैंड्सकोम्ब, शॉन मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, मार्कस स्टोइनिस, एश्टन टर्नर, जाय रिचर्डसन, एडम जंपा, एंड्रयू टाय, पैट कमिंस, नाथन कोल्टर नाइल, एलेक्स केरी, नाथन लायन और जेसन बेहरेनडोर्फ।

LEAVE A REPLY