केशव मौर्य ने भी पुलवामा आतंकी हमले को बताया था दुर्घटना, नहीं हुआ था दिग्विजय जैसा बवाल

0
16

नई दिल्ली
पुलवामा में 14 फरवरी को CRPF काफिले पर हुए आतंकी हमले को मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने दुर्घटना करार दिया था, जिसके बाद सत्ताधारी दल बीजेपी के तमाम नेताओं समेत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनपर निशाना साधा. लेकिन पुलवामा हमले को दुर्घटना बताने वाले दिग्विजय अकेले नहीं हैं, बल्कि बीजेपी के नेता और उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी पुलवामा हमले को दुर्घटना बता चुके हैं.
सोशल मीडिया पर केशव प्रसाद मौर्य का एक वीडियो खुद दिग्विजय सिंह ने री-ट्वीट किया है जिसमें मौर्य आतंकी हमले को जवानों के साथ हुई बड़ी दुर्घटना बता रहे हैं. वीडियो देखकर समझा जा सकता है कि जब पत्रकारों ने पुलवामा आतंकी हमले में सुरक्षा की चूक से जुड़ा कोई सवाल पूछा तो जवाब देते हुए मौर्य ने कहा कि चूक जैसे शब्द का प्रयोग हरियाणा की धरती के पत्रकारों को नहीं करना चाहिए, मेरी समझ से CRPF जवानों के साथ जो दुर्घटना घटी थी, उस संबंध में प्रधानमंत्री ने अपना संदेश देश के सामने बताया है.
हरियाणा में दिया था बयान
वीडियो में आगे केशव प्रसाद मौर्य कह रहे हैं कि सरकार की ओर से सेना को खुली छूट दी गई है, सेना को कैसी, कब कार्रवाई करनी है यह प्रधानमंत्री पहले ही बोल चुके हैं और इससे ज्यादा बोलने की आवश्कता नहीं है. साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री के बयान का हवाला देते हुए कहा कि जो आग देशवासियों के दिल में वहीं प्रधानमंत्री के दिल में भी है. केशव प्रसाद के वीडियो के पीछे बीजेपी का एक बैनर लगा है जिसपर 21 फरवरी की तारीख लिखी हुई है. उनके बयान से साफ है कि यह वीडियो 26 फरवरी को हुई एयर स्ट्राइक से पहले का है.
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने वीडियो के री-ट्वीट किया है जिसमें लिखा है कि क्या अब केशव प्रसाद मौर्य भी देशद्रोही कहलाएंगे? वीडियो दिग्विजय सिंह के बयान से पहले का है, ऐसा उसमें कही गई बातों से भी नजर आ रहा.
पुलवामा आतंकी हमले को मैंने “दुर्घटना” कह दिया तो मोदी जी से ले कर ३ केंद्रीय मंत्री जी मुझे पाकिस्तान समर्थक बताने में जुट गये। उत्तर प्रदेश में भाजपा के उप मुख्य मंत्री जी केशव देव मौर्य जी का बयान कृपया सुनें। मोदी जी व उनके मंत्रीगण मौर्य जी के बारे में कुछ कहना चाहेंगे?
बता दें कि दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करते हुए पुलवामा हमले को दुर्घटना बताया था, जिसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धार की रैली में दिग्विजय पर निशाना साधते हुए आतंक के खिलाफ लड़ाई में कांग्रेस पार्टी की मंशा पर सवाल खड़े किए थे.

LEAVE A REPLY