मंगलवार से बढ़ेगी थोड़ी ठंडक… पहले पखवाड़े में बढ़ता-घटता रहेगा तापमान

0
12

भोपाल । पिछले दो सालों की तुलना में इस बार मार्च ज्यादा ठंडा रहेगा। फिलहाल मौसम के तेवर नरम हैं। मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि मिल रहे ट्रेंड के अनुसार, मंगलवार को बारिश या गरज चमक के साथ बारिश होने से रात में ठंडक और बढ़ सकती है। तीन दिन तक यही ट्रेंड रहेगा। इसके बाद भी एक पखवाड़े तक तापमान में उतार-चढ़ाव का सिलसिला जारी रहने की संभावना है।
दरअसल, पिछले फरवरी के दूसरे पखवाड़े से ही तपिश बढ़ने लगी थी। 2017 में भी फरवरी अंत से शहर तपने लगा था। पिछले साल तो 23 फरवरी को ही दिन का तापमान 35 डिग्री के करीब पहुंच गया था। वर्ष 2017 और 2018 में मौसम ने मार्च के पहले दिन ही तीखे तेवर दिखा दिए थे। इस बार इसमें 10 डिग्री तक का अंतर है।
भोपाल और आसपास के जिलों में हो सकती है बारिश
मौसम विभाग के अनुसार, आगामी 24 घंटे में भोपाल, छिंदवाड़ा, नरसिंहपुर, विदिशा, रायसेन और राजगढ़ जिले में बारिश या गरज चतक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। रविवार को सबसे गर्म दिन खरगौन में 36 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं, सबसे न्यूनतम तापमान शिवपुरी में 9 डिग्री रिकॉर्ड किया गया।
बादल छाए, दिन और रात के तापमान में इजाफा
रात का तापमान 16.0 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 2 डिग्री ज्यादा रहा। इसके आसार रविवार को शाम से ही नजर आने लगे थे। रात में बूंदाबांदी होने से मौसम में ठंडक आई। एक दिन पहले रात का तापमान 18.6 डिग्री तक पहुंच गया था। ये सामान्य से 4 डिग्री ज्यादा था। दिन का तापमान 32.6 डिग्री दर्ज किया गया। शनिवार के मुकाबले इसमें 2 डिग्री की बढ़ोतरी हुई।सोमवार को भी मौसम के तेवर रविवार जैसे ही हैं। सुबह से बादल छाए हैं, दोपहर बाद हल्की धूप खिल रही है। शाम पांच बजे के बाद ये घने हो गए। कुछ इलाकों में मामूली बूंदें भी पड़ीं। मौसम वैज्ञानिक उदय सरवटे ने बताया कि हवा का रुख पश्चिमी रहा। बादल छाने से रात का तापमान बढ़ा। मंगलवार से दो- तीन दिन तक हवा का रुख उत्तरी होने का अनुमान भी है।
बादलों से इसलिए बढ़ता है रात का तापमान
दिन में धरती सोलर एनर्जी से गर्म होती है। रात को वह ऊर्जा आसमान की ओर जाती है, इसे विकिरण कहते हैं। बादल कंबल की तरह इस विकिरण को रोक देते हैं। इससे वातावरण में गर्माहट बनी रहती है और तापमान बढ़ जाता है।

LEAVE A REPLY